अलम, ताबूत और दुलदुल का उठा जुलूस

अलम, ताबूत और दुलदुल का उठा जुलूस

मोमनीन कराम ने पेश किया शहीदों को पुरसा

juloos12

जौनपुर। शहर के पानदरीबा में ऐतिहासिक चार अंगुल की मस्जिद में 26 सफर का जुलूस उठाया गया। जुलूस में शबीहे अलम, ताबूत और दुलदुल बरामद किया गया।

juloos1

परचमएअब्बास (अ.स.)

जहां शहर की कई अंजुमनों ने नौहाख्वानी और सीनाजनी कर के कर्बला में शहीद हुए शहीदों को खिराजएअकीदत पेश किया। इससे पहले मजलिस की शुरुआत सोजख्वानी से रबी हसन और उनके हमनवा ने की। शायरों ने कलाम पेश किया। मजलिस जोहैरकैन रिजवी करारवी ने खेताब ने किया। उन्होंने तमाम अइम्मए मासूमीन के फजाएल पेश किए। जब उन्होंने मसाएब पढ़ा तो लोगों की आंखों से आंसू जारी हो गए। इसके बाद जुलूस बरामद हुआ। जिसके हमराह शहर की तमाम अंजुमनों ने नौहाख्वानी और सीनाजनी की। पहली तकरीर बेलाल हैदर और दूसरी डॉ कमर अब्बास ने खेताब की। जुलूस मीरघर के इमामबाड़े में एख्तेतमाम पजीर हुआ। इसके अलावा हुसैनिया नकी पाठक से उठाया गया। इमामे जुआ महफूजुल हसन ने मजलिस को खेतबा किया। जुलूस में शहर की तमाम अंजुमनों ने नौहाख्वानी और सीनाजनी की।

News Written By- Syed Khadim Abbas Rizvi

(Senior Anchor Jaunpur-e-aza.com)